What are the 3 Cs of Unethical Marketing and Conversions | क्या है धर्म परिवर्तन में थ्री सी?



इन “थ्री सी” (3Cs) में से सबसे पहला “सी” है “कन्विंस” (Convince) यानी विश्वास दिलाना। आप अपने उत्पाद, सेवा या विचार (Product, Service or Idea) को जब बेचने निकलते हैं तो अपने ग्राहक-उपभोक्ता (Customer/Consumer) को विश्वास दिलाने की कोशिश करते हैं कि बाजार (Market) में उपलब्ध विकल्पों के बीच यही सबसे अच्छा है। ग्राहक या उपभोक्ता अपनी जिस समस्या को सुलझाने के लिए विकल्प ढूंढ रहा है, उनमें से इसे चुनना सबसे अच्छा फैसला होगा। समस्या ये है कि हर बार ग्राहक आपके कहने पर ही आपकी बात मान ले, ऐसा तो होता नहीं। ऐसी स्थिति में दूसरा “सी” यानी “कर्रप्ट” (Corrupt) काम आता है। इस अनैतिक प्रक्रिया से आप अच्छी तरह वाकिफ हैं, इसमें उत्कोच यानी रिश्वत-घूस (Bribe) देकर ग्राहक को पटाया जाता है। ऐसा हो सकता है कि ये भी काम न आये, और उस स्थिति में तीसरा “सी” यानी “कन्फ्यूज” (Confuse) का प्रयोग होता है। इसमें आप ग्राहक (Customer) को भ्रमित करके निकल लेते हैं ताकि वो आप जो बेचने निकले हैं, वो न भी ले तो कम से कम किसी और का कुछ न खरीदे। इससे आपको मुनाफा (Profit) नहीं होता, लेकिन आप अपने प्रतियोगियों (Competitors) का मुनाफा भी सफलतापूर्वक रोक देते हैं।

Can the 3Cs of unethical selling be applied to religious conversions in India? How this technique is successfully used in religious conversions? Read the full article on Medium – https://link.medium.com/1LFXkFBvcjb

anandkumar

आनंद ने कंप्यूटर साइंस में डिग्री हासिल की है और मास्टर स्तर पर मार्केटिंग और मीडिया मैनेजमेंट की पढ़ाई की है। उन्होंने बाजार और सामाजिक अनुसंधान में एक दशक से अधिक समय तक काम किया। दोनों काम के दायित्वों के कारण और व्यक्तिगत रूचि के लिए भी, उन्होंने पूरे भारत में यात्राएं की हैं। वर्तमान में, वह भारत के 500+ में घूमने, अथवा काम के सिलसिले में जा चुके हैं। पिछले कुछ वर्षों से, वह पटना, बिहार में स्थित है, और इन दिनों संस्कृत विषय से स्नातक (शास्त्री) की पढ़ाई पूरी कर रहें है। एक सामग्री लेखक के रूप में, उनके पास OpIndia, IChowk, और कई अन्य वेबसाइटों और ब्लॉगों पर कई लेख हैं। भगवद् गीता पर उनकी पहली पुस्तक "गीतायन" अमेज़न पर बेस्ट सेलर रह चुकी है।

Related Posts

क्या कांग्रेस मैनिफेस्टो में संपत्ति के पुनः बंटवारे के बारे में नहीं लिखा?

एक प्रेस वार्ता में कांग्रेसी नेता जयराम रमेश कांग्रेस का तथाकथित “न्याय पत्र” यानि अपना चुनावी घोषणापत्र लहराकर कहते हुए दिखाई दिए कि हमारे बारे में झूठ फैलाया जा रहा…

Read more

सोशल कंस्ट्रक्ट – ये तर्क होता क्या है?

मेरे हिसाब से आप प्रेमी युगलों की हत्या के समर्थक हैं! क्या हुआ, भावना आहत हो गयी इस आरोप से? ठीक है फिर आगे बात करते हैं और बताते हैं…

Read more

One thought on “What are the 3 Cs of Unethical Marketing and Conversions | क्या है धर्म परिवर्तन में थ्री सी?

  1. साहेब विडियो का लाइट सही कीजिये और telepromptor के इस्तेमाल को सही तरीके से कीजये जिससे लगे की आप दर्शको से बात कर रहे हैं SEO भी नही किया गया है content उम्दा है मगर बाद बांकी पर काम करने की जरूरत है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You Missed

पाँचवे चरण की मतदान सम्पन्न, दो चरणों की मतदान बाकी – 04 जून को होगी मतगणना

पाँचवे चरण की मतदान सम्पन्न, दो चरणों की मतदान बाकी – 04 जून को होगी मतगणना

पढाई के साथ व्यवहारिक ज्ञान भी जरूरी – डा. रश्मी कुमार

पढाई के साथ व्यवहारिक ज्ञान भी जरूरी – डा. रश्मी कुमार

“हम” पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष (व्यवसायिक प्रकोष्ट) मोहित शर्मा अपने हजारो समर्थको के साथ शामिल हुए भारतीय जन क्रांति दल में

“हम” पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष (व्यवसायिक प्रकोष्ट) मोहित शर्मा अपने हजारो समर्थको के साथ शामिल हुए भारतीय जन क्रांति दल में

राहु और कालसर्प दोष दूर करने के लिए प्रसिद्ध है कालहस्तिश्वर मंदिर

राहु और कालसर्प दोष दूर करने के लिए प्रसिद्ध है कालहस्तिश्वर मंदिर

बैद्यनाथ ज्योतिर्लिंग एक ऐसा ज्योतिर्लिंग है जहां ज्योतिर्लिंग और शक्तिपीठ दोनों एक ही प्रांगण में स्थापित है

बैद्यनाथ ज्योतिर्लिंग एक ऐसा ज्योतिर्लिंग है जहां ज्योतिर्लिंग और शक्तिपीठ दोनों एक ही प्रांगण में स्थापित है

शिक्षा के साथ संस्कार देने को प्रतिवद्ध लिटेरा पब्लिक स्कूल ने मनाया मातृ दिवस

शिक्षा के साथ संस्कार देने को प्रतिवद्ध  लिटेरा पब्लिक स्कूल ने मनाया मातृ दिवस