Author: Dr. Devendra Prasad

मुफ्त की रेवड़ी और डॉक्टर देवेन्द्र का उसपर देश के नेताओं को तंज

अत्यंत विचारणीय ✍🏻 एक आदमी ने एक विज्ञापन दिया कि उसे उसकी चिन्ता करने वाला एक आदमी चाहिये। वेतन वो जो मांगेगा, मिलेगा। विज्ञापन देखकर एक बेरोजगार तुरंत उसके पास…

जिओ पॉलिटक्स, नूपुर शर्मा, ज्ञानव्यापी मंदिर पर हंगामा है क्यों बरपा ?

कभी कभी चीजें जो दिखती है वो होती नहीं है और असल में जो होती है वहाँ तक हमारी सोच भी नहीं पहुंच पाती है. नुपूर शर्मा केस इसका क्लासिकल…