Shyam ki rasoi 1

पटना । “श्याम की रसोई” के माध्यम से 119वें दिन भी जरुरतमंद लोगों को क़दम कुआँ ,गांधी मैदान ,रेडियो स्टेशन और पटना सिटी में भोजन का वितरण किया गया! आज अनुराग समरूप जी के जन्मदिन की ख़ुशी में वितरण किया गया l आप भी आगे आऐ और इस संकट की घड़ी में सहयोग करें। इन जरुरतमंद लोगों की दुआएं एवं “श्याम बाबा की कृपा” आपके पूरे परिवार एवं व्यापार पर बनी रहे ऐसी कामना आयोजकों ने भी इस अवसर पर की।

सौ से अधिक दिन पूर्व पटना शहर में जरुरतमंदों को कम से कम भोजन उपलब्ध हो सके ऐसी व्यवस्था “श्याम की रसोई के आयोजकों ने करनी शुरू की थी। समय के साथ इस प्रयास में कई लोग जुड़ते गए। आयोजकों ने इस अवसर पर बताया कि शुरुआत तो हम सभी के मित्रों और रिश्तेदारों के माध्यम से ही हुई थी किन्तु अब इस कार्यक्रम से कई अनजान लोग भी आकर समय समय पर जुड़ते हैं। उन्होंने कहा कि कई भामाशाह तो ऐसे हैं जो मदद हेतु राशि तो उपलब्ध करवाते हैं लेकिन अपना नाम उजागर किये जाने से स्पष्ट रूप से मना कर देते हैं। उन्होंने कहा कि “हमारा एक ही सपना, भूखा सोऐ न कोई अपना” के आदर्श के साथ ही कार्यक्रम चल रहा है और इस कड़ी में आज की सेवा बसंत थिरानी,चेतन थिरानी ,रोहित थिरानी , उज्ज्वल राज,धीरेंद्र गुप्ता,अनिता गुप्ता और बेबी देवी ने दी।

By anandkumar

आनंद ने कंप्यूटर साइंस में डिग्री हासिल की है और मास्टर स्तर पर मार्केटिंग और मीडिया मैनेजमेंट की पढ़ाई की है। उन्होंने बाजार और सामाजिक अनुसंधान में एक दशक से अधिक समय तक काम किया। दोनों काम के दायित्वों के कारण और व्यक्तिगत हित के रूप में उन्होंने पूरे भारत में यात्रा की। वर्तमान में, वह भारत के 500+ जिलों में अपना टैली रखता है। पिछले कुछ वर्षों से, वह पटना, बिहार में स्थित है, और इन दिनों संस्कृत में स्नातक की पढ़ाई पूरी कर रहें है। एक सामग्री लेखक के रूप में, उनके पास OpIndia, IChowk, और कई अन्य वेबसाइटों और ब्लॉगों पर कई लेख हैं। भगवद् गीता पर उनकी पहली पुस्तक "गीतायन" अमेज़न पर लॉन्च होने के पांच दिनों के भीतर स्टॉक से बाहर हो गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

hi Hindi
X