shahrukh aryan
mini metro radio
शाहरुख खान के बेटे को मिली क्लीन चिट ड्रग्स मामले मे
समीर वानखेड़े की बढेंगी मुश्किले 
Shah Rukh Khan & his family was harashed by NCB and at the end Truth Triumph’s Alone , लेकिन इस खबर मे मसाला नहीं है Magadhi Boys ने भी शमीर वानखेड़े का साथ दिया था लेकिन अब सत्य सामने हैं , मुझे दुख है तथा वासुदेव के उस कथन पर मुहर भी लग गई कलयुग मे झूठ की एक फोज होगी और सत्य अकेला ही खड़ा तमासा देखेगा , बिहार मे सोनू ने जिस प्रकार का प्रश्न उठाया क्या उस जैसे तमाम बच्चो को कोई पढ़ा पाएगा ? जरूरत है देश मे राइट टू एजुकेशन इन any college or institution सरकारी व्यवस्था को
इस पोस्ट के भी बबाल को आप कॉमेंट सेक्शन मे देख सकते हैं , बोलो ऐसे की न आज मुंह छुपाना परे न ही कल ।
हम तो कल भी सत्य के साथ थे और आज भी
समाप्त करके सीधा गरीब लोगो को उसका पढ़ाने का पैसा मिले , सोनू का सवाल एक तमाचा है इस पूरे सिस्टम पर , बहरहाल ई सब नौटंकी कुछ दिन चलेगा फिर सब भूल जायेंगे कहां गया सोनू क्या हुआ सोनू का इससे कुछ ही दिनों मे किसी को कोई मतलब नही रहेगा , हम सब सिर्फ त्मासा और एंटरटेनमेंट के लिए ही न्यूज देखते हैं चलो कोई तमाशा करो !
शारूख का बेटा पकड़ा गया ड्रग्स case मे तो मुसलमान है, तो ऐसा, तो वैसा! लेकिन जब क्लीन चिट मिला तब मुझे सोशल मीडिया मे कोई पोस्ट दिखी ही नही क्योंकि उसमे कोई तड़का नही था न ! शुक्रवार को NCB ने कथित ड्रग्स मामले मे अरेस्ट किए गए लोगो पर चार्ज सीट कोर्ट मे दायर की जिसमे आर्यन खान का नाम शामिल नहीं था । NCB ने एक बयान जारी करके कहा की सबूतों के अभाव मे हम आर्यन खान को छोड़ रहे हैं ।
चुकी आर्यन खान के पास से कोई ड्रग्स नहीं मिला था इसलिए हम उन्हे छोड़ रहे हैं साथ ही समीर वानखेड़े पर सख्त कारवाई करने के निर्देश जारी किए बता दे की समीर वानखेड़े अपने जन्म प्रमाण पत्र वाले मामले मे पहले ही फंसे हुए है साथ ही अब झूठा सडयंत्र रचने का मामला उनपर दायर हो गया है ।
शमीर वानखेड़े शुरू से ही इस मामले में स्कप्का रहें थे और पता नही कितने ही सोशल मीडिया हैंडल्स का सहारा लेकर अपनी हवा बनाने की कोशिश भी की मगर सत्य जीत गया और वानखेड़े हार गया ।
अब आते हैं खबर पर

बता दें कि 27 मई को NDPS कोर्ट में NCB ने 6 हजार पन्नों की चार्जशीट पेश की. एक निजी मीडिया हाउस की रिपोर्ट के मुताबिक दाखिल चार्जशीट में आर्यन खान का नाम शामिल नहीं था. कहा गया कि उनके खिलाफ ड्रग्स केस में कोई सबूत नहीं मिले. आर्यन खान इस मामले में 28 दिनों तक जेल में रहे थे।

सूत्रों के हवाले से बताया है कि आर्यन खान को क्लीनचिट मिलने के बाद समीर वानखेड़े केंद्र सरकार के रडार पर आ गए हैं।

गृह मंत्रालय ने उनके खिलाफ कार्रवाई का आदेश दे दिया है. यहां ये भी गौरतलब है कि ये मामला सामने आने के बाद समीर वानखेड़े पर करोड़ों रुपये की वसूली के आरोप लगे थे. महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और एनसीपी नेता नवाब मलिक ने उनके खिलाफ मोर्चा खोल दिया था. बाद में समीर को इस केस से हटा दिया गया था.

वहीं सूत्रों के हवाले से ये खबर भी आई कि NCB के उन अधिकारियों पर कार्रवाई की जा सकती है, जिन्होंने अक्टूबर 2021 की शुरुआत में मुंबई स्थित क्रूज पर छापेमारी कर आर्यन खान और अन्य लोगों को ड्रग्स के साथ पकड़ने का दावा किया था.

और किसको मिली राहत

इस ड्रग्स केस में आर्यन खाना के अलावा जिन लोगों के खिलाफ सबूत नहीं मिले उनमें अविन साहू, गोपाल आनंद, समीर साईघन, भास्कर अरोड़ा और मानव सिंघल शामिल हैं. वहीं, मुनमुन धमेचा और अरबाज मर्चेंट को क्लीन चिट नहीं मिली है. दोनों ड्रग्स केस में आरोपी बताए गए हैं. इस मामले में अब 14 लोगों के खिलाफ केस चलाया जाएगा.

क्या था मामला 

2 अक्टूबर 2021 को मुंबई के एक क्रूज पर से आर्यन खान और उनके दोस्तों को समीर वानखेड़े ने ड्रग मामले मे अरेस्ट किया था ।  शुरू से ही कोर्ट मे वकील यह दावा कर रहें थे की मामले मे दम नही है

इस बाबत आर्यन 28 दिनों तक जेल मे भी रहें

क्या था हमारा रुख

हम लोग शुरू से ही कह रहें थे की हमे मीडिया ट्रेल नही चलाना चाहिए, सभी ने खूब पैसा बटोरा इस मामले से

लोगो की इस फैसले पर क्या है पर्तिकिरिया

अमीर आदमी का बेटा है

पैसो की जीत हुई ,

अमीरों के लिए कोई कानून नही

एक यूजर लिखता है :- वो सफ़ेद सफ़ेद नमक था क्या ? पता नही कितना बतंगड़ बना ।

हमारी राय मे

मीडिया को इस तरह के मामले मे दुरी बनानी चाहिए और टीआरपी का नंगा नाच बंद होना चाहिए , न्यालय से जब तक इस तरह के मामलो में फैसला नही आ जाता इस तरह के मामलो पर बोलना मेरे ख्याल से ठीक नही लोग गुमराह होते हैं ।

 

 

By Shubhendu Prakash

शुभेन्दु प्रकाश 2012 से सुचना और प्रोद्योगिकी के क्षेत्र मे कार्यरत है साथ ही पत्रकारिता भी 2009 से कर रहें हैं | कई प्रिंट और इलेक्ट्रनिक मीडिया के लिए काम किया साथ ही ये आईटी services भी मुहैया करवाते हैं | 2020 से शुभेन्दु ने कोरोना को देखते हुए फुल टाइम मे जर्नलिज्म करने का निर्णय लिया अभी ये माटी की पुकार हिंदी माशिक पत्रिका में समाचार सम्पादक के पद पर कार्यरत है साथ ही aware news 24 का भी संचालन कर रहे हैं , शुभेन्दु बहुत सारे न्यूज़ पोर्टल तथा youtube चैनल को भी अपना योगदान देते हैं | अभी भी शुभेन्दु Golden Enterprises नामक फर्म का भी संचालन कर रहें हैं और बेहतर आईटी सेवा के लिए भी कार्य कर रहें हैं |

Leave a Reply

Your email address will not be published.

hi Hindi
X
Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro

Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.

Powered By
Best Wordpress Adblock Detecting Plugin | CHP Adblock