maarpit thmbnail
mini metro radio

पटना सिटी बिहार का मामला थाना पटना सिटी चौक थाना 

2017 से जमीनी विवाद का मामला लंबित है न्यायलय मे,

स्थानीय यादवो के द्वारा की गई मार पिट तथा गाली गलोज 

सोनू कुमार, बबलू कुमार तथा डब्लू कुमार (पिता:- स्व० भागवत यादव) ने जमीन हथियाने के लिए की मारपीट 

इन तीनो का कहना है की हमने जमीन खरीद ली है अब हम इसपर कब्जा करेंगे 

महिला विधवा है तथा पिछड़े  जाती (कुम्हार) से आती है

महिला ने घटना के एक दिन पहले भी दिया था थाणे मे आवेदन 14/07/2022 को लेकिन पुलिस ने नही की कोई कारवाई 

WhatsApp Image 2022-07-18 at 3.28.37 PM (1) WhatsApp Image 2022-07-18 at 3.28.37 PM WhatsApp Image 2022-07-18 at 3.28.35 PM

पटना (सिटी):-   दिनांक 15 जुलाई 2022 दिन के 9 बजे सोनू कुमार, डब्लू कुमार और बबलू कुमार पिता स्व० भागवत यादव निवासी नेहरू टोला मोर्चा रोड थाना चौक जिला पटना   ने आशा देवी पता :- नेहरू नगर पटना सिटी  के मकान में घुस कर घर खाली करने को कहने लगे साथ ही उन्होंने महिला के साथ दुर्व्यवहार और गाली गलोज किया जिसका महिला के बेटो ने विडियो भी बनाया है विडियो में साफ़ देखा जा सकता है की किस तरह से एक महिला को अप्सब्द कहे जा रहें हैं, बता दे की महिला विधवा है और OBC कुम्हार जाती से है उनके पति के मौत के बाद परिवार वाले उसे जबरन घर से निकाल कर घर पर कब्जा करना चाहते थे जिसका मुकदमा साल 2017 से ही पटना में चल रहा है इसी बिच दूसरे पक्ष ने यादव समुदाय के कुछ स्थानीय निवासी से मिलकर महिला से जबरन घर खाली करने को कहा विरोध करने पर गाली गलौज तथा महिला के साथ दुर्व्यवहार किया है ,

आज दिनांक 19 जुलाई 2022 को प्राप्त जानकारी के अनुसार अब मारपीट करनेवाले लोग सुलह करना चाहते है

अब बड़ा सवाल यह है की महिला राष्ट्रपति तो बना रही है सरकार पर इस तरह के मामले मे पुलिस क्यों सो जाती है ?

पिछड़े जाती से उप राष्ट्रपति और ये हाल है पिछड़े जात का ! सामाजिक उत्थान के लिए रिजर्वेशन या फिर सुविधा का आधार जातियों मे भी जो आर्थिक तौर पर पीछे है उसे ज्यादा मिलना चाहिए साथ ही गैस  सब्सिडी की तरह द्रोपदी मुर्मू और चिराग पासवान जैसे लोगो को अपना सीट वही के किसी दलित को दे देना चाहिए

मन मे एक और सवाल घूमता है दलित है कौन ?

चिराग पासवान, मायावती, या फिर वो आईपीएस जो आरक्षण से चुनकर आता है , बेशक आरक्षण से चुनकर आये मगर समस्या तब उत्प्पन होती है जब उनके माता पिता को उसका लाभ मिला वो सबल बन गए फिर उनके बाल बचचो को बेहतर शिक्षा मिल ही गई फिर उन्हें आरक्षण का लाभ क्यों मिले ? आशा देवी जैसे लोगो को क्यों ना मिले ? आरक्षण से चुनकर रिकसेवाले के बेटे को बड़ा अफसर बनते देख मुझे बहुत ख़ुशी होती है, मगर टीना डाबी जिसके माता पिता दोनों ही सबल है फिर उन जैसे लोगो को आरक्षण का लाभ क्यों ?

मगर सब अपना अपना सोचते हैं बहरहाल आप ये वीडियो देखे और स्वयं विचार करें की किस समाज और समाजिकता की हम बात करते हैं ?

Leave a Reply

Your email address will not be published.

hi Hindi
X
Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro

Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.

Powered By
Best Wordpress Adblock Detecting Plugin | CHP Adblock