ASANI UPDATE
mini metro radio

दक्षिण-पूर्वी बंगाल की खाड़ी के ऊपर दबाव से चक्रवाती तूफान ‘असानी’ आएगा। यह तूफान पश्चिम उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ रहा है। यह आंध्र प्रदेश में विशाखापत्तनम से 970 किमी दक्षिण पूर्व और ओडिशा के पुरी से 1020 किमी दक्षिण-दक्षिण पूर्व में है: उमाशंकर दास, वरिष्ठ वैज्ञानिक, IMD,भुवनेश्वर

मुख्य बातें

चक्रवाती तूफान ‘असानी’ (Cyclone Asani) को लेकर मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है. इस तूफान के मद्देनजर मंगलवार से शुक्रवार के बीच पश्चिम बंगाल के कुछ जिलों में बारिश की आशंका है. तूफान का असर झारखंड और बिहार में भी नजर आ सकता है. जानें मौसम का हाल

बंगाल की खाड़ी में बना चक्रवाती तूफान 'असानी', ओडिशा-पश्चिम

गहरा दबाव वाला क्षेत्र चक्रवाती तूफान ‘‘असानी” में बदला

आईएमडी की ओर से जानकारी दी गयी है कि बंगाल की खाड़ी के दक्षिण-पूर्वी क्षेत्र के ऊपर बना गहरा दबाव वाला क्षेत्र रविवार को और तीव्र होकर चक्रवाती तूफान ‘‘असानी” में बदल गया.

चक्रवाती तूफान ‘असानी’ आएगा

तूफान 'असानी'- बंगाल की खाड़ी में बना निम्न दबाव का क्षेत्र, रात तक आएगी  तेजी, सोमवार तक बदल सकता है चक्रवाती तूफान में - Tirandajउमाशंकर दास (वरिष्ठ वैज्ञानिक, IMD,भुवनेश्वर) ने कहा है कि दक्षिण-पूर्वी बंगाल की खाड़ी के ऊपर दबाव से चक्रवाती तूफान ‘असानी’ आएगा. यह तूफान पश्चिम उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ रहा है. यह आंध्र प्रदेश में विशाखापत्तनम से 970 किमी दक्षिण पूर्व और ओडिशा के पुरी से 1020 किमी दक्षिण-दक्षिण पूर्व में है.

धूल भरी हवाएं और आंधी चलने का अनुमान

आने वाले दो तीन दिन के दौरान बीकानेर एवं जोधपुर संभाग के जिलों में अपेक्षाकृत धूल भरी हवाएं और आंधी चलने का अनुमान व्यक्त किया गया है. पश्चिमी विक्षोभ के असर के चलते पिछले कुछ दिनों में अधिकतम तापमान में गिरावट से लोगों ने राहत की सांस ली थी. बीते 24 घंटे में राज्य में कहीं कहीं मेघगर्जन के साथ हल्की वर्षा हुई। वहीं सतही हवाएं चलने से तापमान में कमी आई.

राजस्थान में गर्मी के फिर जोर पकड़ने की चेतावनी

मौसम विभाग ने रविवार से राजस्थान के कई इलाकों में फिर से गर्मी के जोर पकड़ने का अनुमान व्यक्त करते हुए लू चलने (हीटवेव) की चेतावनी जारी की है. मौसम केंद्र जयपुर के अनुसार, आठ मई से जोधपुर, बीकानेर, जयपुर एवं भरतपुर संभाग के जिलों में अधिकतम तापमान 44 डिग्री से 45 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने और लू चलने की संभावना है.

बिहार का मौसम

बिहार में अभी पुरवैया हवा शक्तिशाली बनी रहेगी. अगले चार दिन तक चंपारण क्षेत्र, उत्तर और पूर्व बिहार में प्री मॉनसून बारिश का दौर नजर आएगा. अगले एक सप्ताह तक राज्य में लू चलने की संभावना नहीं है. इधर बंगाल की खाड़ी में विकसित हो रहे चक्रवात का फिलहाल बिहार पर कोई असर होने की आशंका नहीं है. उसके तट पर टकराने के बाद दिशा बतायेगी कि बिहार पर इसका कितना असर पड़ेगा.

Cyclone Asani का असर इन राज्यों में

Cyclone Asani का असर झारखंड के कुछ हिस्सों पर भी पड़ सकता है. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आइएमडी) के मुताबिक, बंगाल की खाड़ी में मंडरा रहे तूफान के रविवार की शाम को 75 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चक्रवात में तब्दील हो सकता है..इस बीच, आइएमडी ने शनिवार को बताया कि बंगाल की खाड़ी में बना चक्रवाती तूफान ओड़िशा या आंध्र में दस्तक नहीं देगा, पर ओड़िशा तट के समानांतर आगे बढ़ेगा. इसकी वजह से ओड़िशा तट के पास समुद्र की स्थिति नौ व 10 मई को खराब रहेगी. समुद्र में हवा की गति बढ़ कर 80 से 90 किमी प्रति घंटे हो जायेगी.

पुरी में भारी बारिश की चेतावनी

आइएमडी के अनुसार, तूफान Asani के प्रभाव से ओड़िशा के तटीय जिलों-गंजम, गजपति, खुर्दा, जगतसिंहपुर व पुरी में 10 मई की शाम के बाद बारिश होगी. 11 मई को गंजम, खुर्दा, पुरी व कटक में भारी बारिश हो सकती है. ओड़िशा सरकार ने एनडीआरएफ के 17 दलों, ओड़िशा आपदा त्वरित कार्रवाई बल व दमकल विभाग के 175 दलों को बुलाया है. आइएमडी के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्र ने कहा कि ओड़िशा तट के पास समुद्र की स्थिति नौ व 10 मई को खराब रहेगी. ओड़िशा के तटीय क्षेत्रों में हवा की गति लगभग 40से 50 किलोमीटर प्रति घंटे से बढ़ कर 60 किलोमीटर प्रति घंटे तक हो जायेगी. 11 मई के बाद हवा की गति धीरे-धीरे कम हो जायेगी.

दिल्ली में लू को लेकर येलो अलर्ट जारी

दिल्ली में शनिवार को अधिकतम तापमान 39.4 डिग्री सेल्सियस रहा, जो इस मौसम के औसत तापमान से एक डिग्री अधिक है. आइएमडी ने नौ मई से शुरू होने वाले लू के दौर के लिए येलो अलर्ट जारी किया है. शनिवार को दिल्ली में न्यूनतम तापमान 23.8 डिग्री सेल्सियस रहा.

झारखंड में 13 मई तक होगी बारिश, 40 से नीचे रहेगा पारा

मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि 13 मई तक राज्य के विभिन्न इलाकों में बारिश होती रहेगी. इस दौरान गर्जन भी हो सकता है. राज्य में लोगों को एक सप्ताह से गर्मी से राहत मिली हुई है. दिन में धूप होने के बाद शाम होते-होते मौसम बदल जा रहा है. बादल और तेज हवा के साथ कभी-कभी बारिश भी हो जा रही है. इसका असर अधिकतम तापमान पर दिख रहा है. राज्य के अधिकांश जिलों का अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेसि नीचे चल रहा है. मौसम केंद्र ने 11 मई को राज्य के दक्षिण, पूर्वी-मध्य तथा उत्तर-पूर्वी भागों में कहीं-कहीं गर्जन के साथ वज्रपात की चेतावनी है. इस दौरान हवा की गति 30 से 40 किमी प्रति घंटे हो सकती है. सभी जिलों का अधिकतम तापमान 35 से 37 डिग्री सेसि के बीच हो सकता है.

 

3 thoughts on “क्या होगा “असानी” का असर बिहार और अन्य राज्यों में साथ ही बढती गर्मी पर मौसम UPDATE”
  1. With everything which seems to be developing within this particular subject material, all your points of view are very radical. Nonetheless, I appologize, but I do not give credence to your whole suggestion, all be it exhilarating none the less. It appears to everybody that your opinions are generally not completely validated and in simple fact you are generally your self not even entirely convinced of your assertion. In any event I did enjoy reading it.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

hi Hindi
X